Friday 28 May 2010

दरिद्र प्रदेश में दौलत की देवी

मालामुर्ती क्षमा कीजियेगा मायावती ‘दलित की बेटी’ होने के विशेषण का इजहार करते हुए अपने विरोधियों को सियासत के मैदान में चुनौती देती हैं और विरोधी जवाब में उन्हें ‘दौलत की बेटी’ के विशेषण से नवाजा करते हैं। दोनों ही विशेषण अपनी जगह सौ फीसदी सही हैं। मायावती जन्मना दलित की बेटी हैं और कर्मणा वह दौलत की बेटी बन चुकी हैं।

बेचारी उत्तर प्रदेश की जनता चाहे तो उन्हें ‘दौलत की देवी’ कह ले! बसपा की मुखिया मायावती ने मुख्यमंत्री की हैसियत से प्रदेश वासियों की झोली में चाहे कुछ दिया हो या न दिया हो, लेकिन इतना तो बड़े भरोसे से कहा जा सकता है कि सूखा और बाढ़ की चक्की में पिसते प्रदेश की गरीब जनता ने उन्हें करोड़पति बना दिया है। वह भी कोई छोटा-मोटा करोड़पति नहीं, ऐसा करोड़पति जो तेजी से अरबपति होने की राह पर चल रहा है।

महज तीन बरस में उनकी सम्पत्ति में 34 करोड़ का इजाफा हुआ है। उत्तर प्रदेश की विधान परिषद के लिए द्विवार्षिक चुनाव का नामांकन करते हुए दलित की बेटी मायावती ने अपनी सम्पत्ति का जो ब्यौरा दिया है, उसके मुताबिक उनकी दौलत पिछले तीन सालों में 52 करोड़ रुपए से बढ़कर 87 करोड़ रुपए हो गई है। इसका मतलब यह हुआ कि उनकी हर महीने की औसत आमदनी लगभग तीन करोड़ रुपए के बराबर रही। अपने आप में यह कम दिलचस्प नहीं है कि इन बरसों में जब समूची दुनिया समेत अपने देश की अर्थव्यवस्था भी घनघोर मंदी के भंवर में ऊभचूभ कर रही थी और बड़े-बड़े उमियों के पसीने छूट रहे थे, तब भी मायावती की दौलत का ग्राफ उत्तरोत्तर ऊंचाई की सीढ़ियां चढ़ता रहा।

इसका एक अर्थ तो यही हुआ कि जनता की सेवा और प्रदेश के निर्माण का जो पारिश्रमिक है, उस पर आर्थिक मंदी और सूखा-बाढ़ जैसे प्राकृतिक प्रकोप का कोई असर नहीं पड़ता!। खैर ये तो वो संपत्ति है जिसको दिखाया गया है , इसके अलावा घोड़ी बछेड़ा की जमीन जिसके लिए 4 किसानो की जान ले ली इस ड्राकुला सरकार ने , बादलपुर की वो अरबो की लागत से बन रही कोठी जिसकी वजह से एक देशभक्त शहीद को घर से बेदखल करने में सारा प्रशाशनिक अमला लगा हुआ है, लखनऊ में जिस जमीन के लिए एक जज के परिवार को मानसिक प्रताड़ना दी जा रही है,विभिन्न जिलो में बसपा नेताओं द्वारा बनाई जा रही बेनामी संपत्तियां और सबसे बड़ी वो करोडो की माला जिसने मायावती को मालामुर्ती बना दिया उसका जिक्र नही है, वरना बात अरबो तक पहुचती.

बहरहाल, वैभव के इस विवरण के सामने दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देश अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा की कुल 50 लाख डॉलर की सम्पत्ति को रखकर देखें तो लगेगा कि अमीरी के मामले में वे उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती के आगे कहीं नहीं ठहरते।

क्या इसका एक अर्थ यह नहीं निकलता कि अमेरिका की तरह जिन देशों के शासनाध्यक्षों की सम्पत्ति संतुलित व सामान्य है, वे देश तो विकास करते हैं, मगर जिस देश के प्रदेशों के मायावती, जयललिता और मधु कोड़ा सरीखे तेजी से अमीर होने वाले चरित्र हीन, धनलोलुप, रक्तपिपासु और मानवता के ऊपर कलंक मुख्यमंत्री हुआ करते हैं, वहां उत्तर प्रदेश-तमिलनाडु-झारखंड जैसे विकास के मोहताज, दर-दर की ठोकर खानेवाले राज्य दिखाई देते हैं। सवाल यह भी है कि किसी शासनाध्यक्ष को उसकी निजी अमीरी के आधार पर उमी-पराक्रमी माना जाए या फिर उसके शासन काल में दुर्गति की दशा भोगते प्रदेश के आईने में उसे फिसड्डी और दरिद्र कहा जाए! ये वही नेता या फिर नेता के नाम पर ...... है जिसने , आपको याद ही होगा कि कुछ महीने पहले जिसके पास दांतेवाडा के शहीदों को देने के लिए पैसे नहीं थे कृपालु महाराज के भंडारे में मामूली खैरात पाने की भगदड़ में मरे लोगों को मुआवजा देने के लिए पैसे न होने की बात मुख्यमंत्री ने वैसे ही सार्वजनिक की थी, जैसे अब अपनी सम्पत्ति की घोषणा की है।

3 comments:

  1. Hi bhaiyya,

    Please answer my few questions:

    WHy we r so much concerned with Maya's bank balance only??
    Is it so because she is a dalit beti.......everyone knows that other leaders in India hav far more fat balance than maya...then y we aint supposed to enquire abt them alongwith her....
    I know that whatever maya is doing in UP is not justified by any statement but in a gr8 country like India ( where a bank clerk is also a crore man) I think that we r being unfair with Maya .....Only fault I find in her that she gives other an idea abt her property by doing cheap things n other leaders r more sinciere in this aspect.....

    Lets go to the root of her income....
    Take the Aabkari vibhaag....on every bottle 40% goes to maya n 30% goes to officers in between...what abt their proprty...who is going to look after that....is only mayawati doing all the crime......

    Another ex- For getting a ticket frm pratapgarh, one has to 5 Cr. to her....what abt the prpoerty of that man who is nobody before electiob and still he manages to give that amt...
    please think.....UR Uttar Pradesh is nothing but is sucked by its own people at every possible position....

    Another ex-
    A man who becomes a gram pradhan is absolutely the most free person on earth that is y he fights for the electiob and after the end of five years he becomes the richest person in that village....how can i blame maya who is the head of hundreds of such villages....

    If a useless pradhan can hav a balance of more than a crore then forget abt the top politicians y don't May can hav 80 or 90 crores????????

    So I have cited few examples which r concerned to top politicians , a middle income class and a low income class.......every class is enjoying the royality...This is the fact brother....

    Just tell me how can we blame her if we r not correct at our positions????
    If we r not correct then we should close our eyes n take it as it is.....

    That was critics frm me....
    now what i think....

    waise kaaafi acha blog likhte hain aap bhaiyya.....good one.....dalit bitiya ka kuch to karna hi padega raja bhaiyya ko..bahut uchaal maar rahi hai....

    ReplyDelete
  2. See i'm totally bent with your ideas. It is not that she is born Billionaire. She has generated money from whatsoever source is questionable. After all she is the people's representative. She is answerable to the people in Indian Democracy. Even if she would have made U.P a prosperous state then also one would have asked about her property.
    Alas !! She even didn't do that. A state with numerous big Industrial centres, Tourist spots and educational hubs is succumbing to this deadly scenario in her reign.

    Its very obvious question from a person like you.

    Prashant, give it a second thought whether your mercy on Mayawati is really justified or not.


    BTW visit me at : http://asheshraghav.blogspot.com/

    ReplyDelete
  3. badhiya post.. maya ko maya ka chaska lag gaya hai..

    ReplyDelete